Email :- vmentorcoaching@gmail.com
Mobile No :- +919599538438, +918824358962
Address :- Near Chandra Mahal Garden, Agra Road Jaipur, 302031, India

Tuesday, November 15, 2016

दैनिक समसामयिकी 14 November 2016(Monday)

दैनिक समसामयिकी
14 November 2016(Monday)
1.शरणार्थी संबंधी विधेयक पर लोस में होगा विचार
• देश में शरणार्थियों एवं शरण मांगने वालों के लिए कानूनी ढांचे के अभाव में लोकसभा में पेश किये जाने वाले शरणार्थियों से संबंधित निजी विधेयकों के क्र म में हाल ही में राष्ट्रपति ने बीजद सांसद रविन्द्र कुमार जेना के ‘‘शरणार्थी और शरणस्थली की तलाश करने वालों के संरक्षण विधेयक’ 2016 को विचार के लिए मंजूरी प्रदान की है। 

• बलूचिस्तान के निर्वासित नेता ब्रह्मदाग बुगती के भारत में शरण मांगने और देश में तिब्बती, चकमा, अफगान, बांग्लादेशी शरणार्थियों की बड़ी संख्या में मौजूदगी के बीच इसे संसद सदस्यों की ओर से निजी स्तर पर महत्वपूर्ण पहल के रूप में देखा जा रहा है। 
• इससे पहले कांग्रेस सांसद शशि थरूर के निजी विधेयक ‘‘शरणार्थी विधेयक 2015’ और भाजपा के वरुण गांधी के ‘‘राष्ट्रीय शरणार्थी बिल 2015’ को लोस में रखे जाने को विचारार्थ है। लोकसभा सचिवालय के बुलेटिन में कहा गया है कि ‘‘राष्ट्रपति ने बीजद सांसद रविन्द्र कुमार जेना के निजी विधेयक शरणार्थी और शरणस्थली की तलाश करने वालों के संरक्षण विधेयक 2016 की विषय वस्तु से अवगत कराने पर संविधान के अनुच्छेद 117 के खंड 3 के अधीन विचार किये जाने की सिफारिश की है।’
• जेना ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि इसमें शरणार्थियों और शरण मांगने वालों की सुरक्षा के लिए उपयुक्त एवं प्रभावी कानूनी ढांचा तैयार करने की बात कही गई है।
2. ग्वादर पोर्ट शुरू, चीनी माल लेकर जहाज हुआ रवाना
• पाकिस्तान के शीर्ष असैन्य और सैन्य नेता आज नवनिर्मित ग्वादर बंदरगाह से पश्चिमी एशिया और अफ्रीका को निर्यात करने सामान ले जा रहे चीनी पोत को रवाना करने के लिए देश के दक्षिण पश्चिम में पहुंचे।सरकार ने एक बयान में कहा कि विदेशों में बेचे जाने वाले सामान को लेकर चीनी ट्रकों का पहला काफिला कड़ी सुरक्षा के बीच ग्वादर को चीन के उत्तरपश्चिमी शिनजियांग क्षेत्र से जोड़ने वाली सड़क के रास्ते पहुंचा।
• प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा, पाकिस्तान विदेशी निवेशकों को हर संभव सुरक्षा मुहैया कराएगा ताकि वह अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए चीन द्वारा वित्तपोषित बंदरगाह का इस्तेमाल कर सकें।विदेशी कर्मचारियों के बीच सुरक्षा से जुड़ी चिंताओं को बीच पाकिस्तानी सेना ने नए व्यापार मागरे और पत्तन की सुरक्षा के लिए एक विशेष बल का गठन किया है। यह बंदरगाह उग्रवाद प्रभावित बलूचिस्तान प्रांत में स्थित है, जहां एक दरगाह में रात में हुई बमबारी में 50 लोग मारे गए थे। 
• इस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली थी और पाकिस्तानी अधिकारियों ने कहा कि इसका उद्देश्य देश के दक्षिण पश्चिम में या कहीं और चीनी वित्तपोषित परियोजनाओं को नुकसान पहुंचाने का था।चीन ‘‘चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा’ नामक परियोजना के तहत सड़कों और बिजली के संयंत्रों के तंत्र का निर्माण कर रहा है। इसमें आने वाले दशकों में 46 अरब डॉलर के चीनी निवेश की संभावना है। चीन और पाकिस्तान के बीच लंबे समय से करीबी राजनीतिक एवं सैन्य संबंध रहे हैं। 
• यह आंशिक तौर पर दोनों देशों के भारत के प्रति विद्वेष पर भी आधारित रहा है। ग्वादर बंदरगाह अरब सागर में स्थित है और इसकी भौगोलिक स्थिति दक्षिण एशिया, मध्य एशिया और पश्चिम एशिया के बीच एक रणनीतिक स्थिति है। बंदरगाह फारस की खाड़ी के मुख पर भी स्थित है, जो हरमुज जलडमरूमध्य के ठीक बाहर है। 
• चीन अरब सागर और हिंद महासागर तक सहज और विश्वसनीय पहुंच बनाने की कोशिश कर रहा है। चीनी पोत अब मलक्का जलडमरूमध्य का इस्तेमाल करते हैं। यह मलय प्रायद्वीप और इंडोनेशिया के बीच एक संकरा मार्ग है। प्रस्तावित नया मार्ग चीन को फारस की खाड़ी क्षेत्र और पश्चिम एशिया तक पहुंच दे देगा।
3. यूएन के कई सदस्य स्थायी सीट के लिए भारत के पक्ष में
• संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में सुधार और उसके बाद स्थायी सदस्यता के लिए भारत की मुहिम को ब्रिटेन और फ्रांस जैसे देशों सहित संयुक्त राष्ट्र के कई सदस्यों से मजबूत समर्थन मिला है। इन देशों ने इस बात पर जोर दिया कि विश्व संस्था की शीर्ष इकाई को निश्चित तौर पर ऐसा होना चाहिए जो नई वैश्विक शक्तियों को प्रतिबिंबित करे। 
• संयुक्त राष्ट्र में पिछले सप्ताह आयोजित आम सभा के सत्र के दौरान 15 सदस्यीय यूएनएससी के सुधार पर 50 से अधिक वक्ताओं ने अपने सुझाव, दृष्टिकोण और चिंताएं साझा कीं।
• संयुक्त राष्ट्र की वेबसाइट पर पोस्ट की गई सात नवंबर की बैठक के सार-संकलन के अनुसार, कई सदस्यों ने ब्राजील, जर्मनी, भारत और जापान जैसी उभरती शक्तियों के प्रतिनिधित्व का समर्थन किया जबकि कुछ ने सुरक्षा परिषद सुधार प्रक्रि या के जरिए हाल के वर्षों में हुई प्रगति को रेखांकित किया, अन्य ने गहरी निराशा व्यक्त करते हुए यह आवाज उठाई कि इससे अधिक अब तक नहीं पाया गया। 
• ब्रिटेन एवं फ्रांस सहित अधिकतर देशों ने भारत की स्थायी सदस्यता का समर्थन किया और ब्राजील तथा जर्मनी जैसी अन्य उभरती शक्तियां भी वीटो शक्ति वाली परिषद की स्थायी सदस्यता के दावेदार थे। संयुक्त राष्ट्र में ब्रिटेन के स्थायी प्रतिनिधि एवं राजदूत मैयू रिक्र ॉफ्ट ने सत्र के दौरान कहा कि ब्रिटेन का मानना है कि स्थाई और अस्थाई वगरें में कुछ सुधार हो और अन्य देशों को भी इस दृष्टिकोण का समर्थन करना चाहिए।
4. सीबीआई को नए अधिकार : विदेश में अपराध करके आने वालों पर अब चला सकेगी मुकदमे
• दूसरे देशों में अपराध कर भारत लौट आने वाले भारतीय नागरिक अब सजा से नहीं बच पाएंगे। सीबीआई को नए अधिकार मिल गए हैं, जिनके तहत वह एेसे लोगों पर मुकदमे चला सकती है। केंद्र सरकार ने इसे उन अपराधियों की जांच और उन पर मुकदमे चलाने के अधिकार दे दिए हैं जो विदेश में अपराध कर बचने के लिए स्वदेश लौट आते हैं। 
• सीबीआई सूत्रों ने बताया कि कई मामलों में विदेशी अदालतों में भगोड़े घोषित ये लोग यहां सामान्य जीवन जीते हैं। इन्हें प्रत्यर्पण संधि की सीमाओं के कारण सुनवाई का सामना करने के लिए उस देश में नहीं भेजा जा सकता था जहां अपराध हुआ है। अब तक इन पर भारत में भी मुकदमा नहीं चल सकता था, क्योंकि अपराध भारतीय एजेंसियों के कार्यक्षेत्र के बाहर हुआ होता था। 
• 39 देशों से भारत की प्रत्यर्पण संधि, इनमें 21 अपने नागरिकों को वहां नहीं भेजते जहां से वे अपराध कर भागे हैं दूसरे देशों ने कई मंचों पर सवाल उठाए कि उनके यहां अपराध कर भाग जाने वाले दंड से बच निकलते हैं। उन्हें दंड देने की व्यवस्था होनी चाहिए। उनका कहना है कि जिस अपराध में उनके यहां सजा होती है उस अपराध में भारत में भी सजा होनी चाहिए।
5. अदिति अशोक
• कई कीर्तिमान स्थापित करने वाली 18 वर्षीय गोल्फर अदिति अशोक ने एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली। कोलकाता की यह युवा गोल्फर रविवार को हीरो महिला इंडियन ओपन का खिताब जीतने के साथ ही लेडीज यूरोपियन टूर हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई। 
• रियो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली अदिति ने डीएलएफ गोल्फ और कंट्री क्लब में आखिरी दौर में इवन पार 72 का कार्ड खेलकर ट्रॉफी पर कब्जा किया। इस जीत ने उन्हें लेडीज यूरोपियन टूर रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचा दिया। 
• अदिति को पुरस्कार के रूप में 60, 000 डॉलर (करीब 40 लाख रुपये) मिले। बेंगलुरु की अदिति शनिवार तक दो स्ट्रोक की बढ़त पर थी और इस किशोरी ने अपना कुल स्कोर तीन अंडर 213 तक पहुंचाया। उन्होंने अमेरिका की ब्रिटनी लिनसीकॉम और स्पेन की बेलेन मोजो को एक शॉट से पीछे छोड़ा।
Sorce of the News (With Regards):- compile by Dr Sanjan,Dainik Jagran(Rashtriya Sanskaran),Dainik Bhaskar(Rashtriya Sanskaran), Rashtriya Sahara(Rashtriya Sanskaran) Hindustan dainik(Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times(Hindi& English)

No comments:

Post a Comment